महाराष्ट्र

Farmer leaders claim permission for tractor parade on 26 January | किसान आंदोलन: योगेंद्र यादव का दावा- 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड की अनुमति मिली, पुलिस ने कहा- अंतिम दौर में बातचीत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर 59 दिन से डटे किसानों का आंदोलन जारी है। इन दिनों दिल्ली के सिंघु, टिकरी बॉर्डर समेत गाजीपुर बॉर्डर पर भी किसानों की भीड़ बढ़ती जा रही है। इस बीच ट्रैक्टर परेड को लेकर शनिवार को पुलिस और किसान नेताओं की बैठक हुई। इसके बाद स्वराज अभियान के योगेंद्र यादव ने प्रेस वार्ता कर दावा किया कि 26 जनवरी को किसान परेड होगी और इसके लिए फाइनल रूट सुबह तक मीडिया को बता दिया जाएगा। हालांकि, दिल्ली पुलिस के सीपी ने कहा है कि प्रदर्शनकारी किसानों के साथ वार्ता अभी भी अंतिम चरण में हैं। किसानों ने अभी तक हमें कोई लिखित रूट नहीं दिया है। लिखित रूट आएगा, उसके बाद बताएंगे। 

योगेंद्र यादव ने कहा कि 26 जनवरी को किसान इस देश में पहली बार गणतंत्र दिवस परेड करेंगे। पांच दौर की वार्ता के बाद ये सारी बातें कबूल हो गई हैं। सारे बैरिकेड खुलेंगे, हम दिल्ली के अंदर जाएंगे और मार्च करेंगे। रूट के बारे में मोटे तौर पर सहमति बन गई है। यादव ने कहा कि उन्होंने यह भी कहा कि किसानों की ट्रैक्टर परेड का गणतंत्र दिवस के सरकारी कार्यक्रम पर कोई असर नहीं पड़ेगा। वहीं किसान संगठनों ने इस परेड में हिस्सा लेने के इच्छा रखने वाले सभी किसानों से अपील की है कि वो अनुशासन बनाए रखें। उधर, किसान नेता अभिमन्यु कोहर ने भी कहा- गाजीपुर, सिंघु और टीकरी बॉर्डर से ट्रैक्टर परेड शुरू होगी। 

ट्रैक्टर परेड की तैयारियां तेज
किसान करीब एक महीने से ट्रैक्टर परेड की तैयारियां कर रहे हैं। पंजाब के कई शहरों और गांवों में इसकी रिहर्सल की जा रही है। पंजाब के कई जिलों से किसान ट्रैक्टर लेकर दिल्ली के लिए रवाना हो रहे हैं।

परेड में झांकियां भी होंगी प्रदर्शित
परेड में शामिल होने से पहले ट्रैक्टरों को गणतंत्र दिवस के लिए सजाया जा रहा है। अलग अलग सीमाओं पर कलाकारों की तरफ से तैयार की गई पेंटिंग और किसान आंदोलन से जुड़ी झांकियां भी परेड में ट्रैक्टरों पर प्रदर्शित किए जाएंगे। पंजाब, हरियाणा सहित देश के अन्य शहरों में भी झाकियां प्रदर्शित की जाएंगी। किसानों की दशा और दिशा से संबंधित झांकियां होंगी, जिसके लिए हर तरफ तैयारियां जोर शोर से चल रही है।

तीन राज्यों के पुलिस अधिकारी हुए शामिल
पुलिस के साथ पांचवे दौर की बैठक में दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा पुलिस के आला अधिकारी शामिल हुए। गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा के लिहाज से सभी किसान संगठनों को कहा गया है कि परेड के दौरान माहौल पूरी तरह शांतिपूर्ण रहे।

ओडिशा से 500 किसान पहुंचे यूपी गेट
ओडिशा से नवनिर्माण किसान संगठन के बैनर तले करीब 500 किसान 6 बसों के साथ शनिवार दिन में यूपी गेट पहुंचे।, संगठन के कोऑर्डिनेटर उमाकांत ने कहा कि वह 15 जनवरी को भुवनेश्वर से बंगाल व झारखंड होते हुए उत्तर प्रदेश के यूपी गेट पर पहुंचे हैं।

Source link

Follow me!

You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

PAGE TOP
%d bloggers like this: