Hindi News

Hyderabad Municipal Corporation Election: Javadekar speeds BJP’s campaign | हैदराबाद नगर निगम चुनाव : जावडेकर ने भाजपा के प्रचार को दी रफ्तार

हैदराबाद, 22 नवंबर (आईएएनएस)। ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनावों के लिए भाजपा के अभियान को गति देने के लिए, केंद्रीय पर्यावरण और वन, सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) सरकार के खिलाफ पार्टी का आरोपपत्र जारी किया।

दस्तावेज के रूप में अरोपपत्र में पिछले छह वर्षों के दौरान राज्य सरकार की 60 विफलताओं और तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के तहत ग्रेटर हैदराबाद की दुर्दशा की सूची है। इसमें पिछले चुनावों में सत्तारूढ़ दल द्वारा किए गए अधूरे वादों का भी उल्लेख है।

इस अवसर पर बोलते हुए जावडेकर ने भरोसा जताया कि भाजपा जीएचएमसी चुनावों में दुब्बक जैसी जीत को दोहराएगी। वह हाल ही में दुब्बक विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में पार्टी की जीत का जिक्र कर रहे थे।

उन्होंने कहा, बीजेपी हैदराबाद में उस किस्से को दोहराने जा रही है जो दुब्बक उपचुनाव में हुआ था।

केंद्रीय मंत्री ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के साथ मिलीभगत के लिए टीआरएस की भी खिंचाई की।

उन्होंने कहा, लोगों को यह तय करना होगा कि उन्हें भाजपा का मेयर चाहिए या एआईएमआईएम का। कांग्रेस और टीआरएस को वोट देने का मतलब है एआईएमआईएम को वोट देना और एआईएमआईएम को वोट देना मतलब विभाजन के लिए वोट देना।

उन्होंने दावा किया कि हैदराबाद के लोगों ने शहर के मेयर के रूप में एक भाजपा नेता को चुनने का फैसला किया है।

150 सदस्यीय जीएचएमसी के लिए चुनाव 1 दिसंबर को होने हैं।

मंत्री ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव और एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी दोनों ही पारिवारिक शासन को कायम रखने की कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, केसीआर और उनके मित्रों की संपत्ति बढ़ रही है, लेकिन तेलंगाना के लोगों की संपत्ति कम हो रही है।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने तेलंगाना राज्य के गठन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

उन्होंने यह भी कहा कि टीआरएस ने हैदराबाद को एक वैश्विक शहर के रूप में विकसित करने का वादा किया था, लेकिन इसे बाढ़ शहर बना दिया। जावडेकर ने शहर के 15 दिनों तक बाढ़ में रहने का जिक्र किया। उन्होंने आरोप लगाया कि टीआरएस सरकार शहर में एक उचित जल निकासी प्रणाली प्रदान करने में विफल रही।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि बाढ़ राहत का आधा पैसा टीआरएस नेताओं की जेब में चला गया।

जावडेकर ने जानना चाहा कि एक लाख नौकरियों और दो लाख डबल बेड रूम वाले घर देने के टीआरएस के वादों का क्या हुआ। केंद्रीय मंत्री ने कहा, उन्होंने दो लाख घरों का वादा किया, लेकिन एक हजार घर भी नहीं बनाए। नरेंद्र मोदी सरकार ने ढाई करोड़ घर बनाए हैं।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किशन रेड्डी, भाजपा की तेलंगाना इकाई के अध्यक्ष बंडी संजय कुमार, पार्टी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डी.के. अरुणा, भाजपा ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष के. लक्ष्मण और अन्य नेता भी उपस्थित थे।

वीएवी/एसजीके

Source link

You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: