Hindi News

India carrying out ‘pinpoint strikes’ on terror launchpads inside PoK: Govt sources| सेना की बड़ी कार्रवाई- ‘PoK में चुन-चुन पिन प्वाइंट स्ट्राइक कर रही है सेना’


नई दिल्‍ली: भारतीय सेना पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर (PoK) के भीतर आतंकियों के लॉन्चिंग पैड को ध्वस्त कर रही है.  सूत्रों के मुताबिक आतंकियों के खिलाफ सख्‍त एक्‍शन लेते हुए भारतीय सेना PoK के भीतर ‘पिन प्‍वाइंट स्‍ट्राइक’ कर रही है. दरअसल सर्दियों के बढ़ने से पहले ही पाकिस्‍तान सेना अधिकाधिक आतंकियों को कश्‍मीर घाटी में भेजने की फिराक में है. भारतीय सशस्‍त्र बलों ने हाल के दिनों में कहा भी है कि 250-300 आतंकी पीओके के लॉन्चिंग पैड में हैं और भारत में घुसपैठ की कोशिशों में हैं.

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) प्रमुख राकेश अस्थाना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) से आतंकवादियों की घुसपैठ की कोशिशों के बीच बृहस्पतिवार को कहा कि कश्मीर में बहुत भारी बर्फबारी से पहले की अवधि आतंकवादियों के लिए इस तरफ आने के लिए ‘‘बहुत उपयुक्त’’ है और सुरक्षा बल स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं.

बीएसएफ महानिदेशक राकेश अस्थाना ने कहा कि बल इस मोर्चे पर किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार है.

नियंत्रण रेखा से घुसपैठ की लगातार कोशिशों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘हम पहली रक्षा पंक्ति हैं और हम देश की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध और दृढ़ हैं.’’

अस्थाना पैरा-एथलीटों का समर्थन करने के लिए कश्मीर से कन्याकुमारी तक छठीं ‘इन्फिनिटी राइड 2020’ को झंडी दिखाकर रवाना किये जाने के एक समारोह के मौके पर पत्रकारों से बात कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारी बर्फबारी से पहले और आतंकवादियों को घुसपैठ कराने के प्रयास कर रहा है लेकिन बीएसएफ और अन्य सभी एजेंसियां ​​और सुरक्षा बल तैयार हैं और स्थिति से निपटने का पूरा प्रयास कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवादियों को हमारे देश में घुसपैठ कराने के प्रयास किये जा रहे हैं और विशेष रूप से यह अवधि ऐसी गतिविधियों के लिए बहुत अनुकूल है. हम इसे रोकने के लिए जो भी जवाबी उपाय कर रहे हैं वे बहुत प्रभावी हैं. बीएसएफ महानिदेशक के तौर पर मैं आपको बता सकता हूं कि हम इस तरह के प्रयासों को विफल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और हम स्थिति से प्रभावी ढंग से निपटेंगे.’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें बहुत अधिक ध्यान देने, बहुत सतर्कता बरतने की आवश्यकता है. यह स्थिति है, इसमें कोई संदेह नहीं है और हम इसका सामना कर रहे हैं.’’

जम्मू में इससे पहले सुबह हुई एक मुठभेड़ में चार आतंकवादियों के मारे जाने का जिक्र करते हुए बीएसएफ महानिदेशक अस्थाना ने कहा कि यह इसलिए हुआ क्योंकि सुरक्षा बल सीमा पार से घुसपैठ की कोशिशों को लेकर सतर्क थे.

उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवादी शिविर में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी मिलती रहती है. हम सतर्क हैं और इसका मुकाबला करने के लिए तैयार हैं. आज की मुठभेड़ भी यह संकेत देती है कि हमारी सभी सुरक्षा एजेंसियां ​​और पुलिस बल सतर्क हैं और उसका (घुसपैठ) मुकाबला करने के लिए तैयार हैं.’’

उन्होंने कहा कि बीएसएफ सीमावर्ती क्षेत्रों के आसपास रहने वाले नागरिकों को लेकर प्रतिबद्ध है और सीमा सुरक्षा बल उन्हें कठिन समय में हर तरह की सहायता प्रदान करेगा.

अधिकारी ने कहा कि बल पाकिस्तान द्वारा हाल में किये गए संघर्षविराम उल्लंघन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए अपनी नागरिक कार्य योजना के तहत एक चिकित्सा शिविर का आयोजन कर रहा है.

 





Source link

You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: